Important Stuff

Delhi University Election Result 2017….

दिल्ली विश्वविद्यालय में हुए छात्रसंघ चुनाव (DUSU 2017) के नतीजे आ गए हैं। तीन पदों पर NSUI की जीत हुई है। इसमें अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और ज्वाइंट सेक्रेटरी का पद शामिल है। वहीं ABVP ने सचिव पद पर जीत दर्ज की। NSUI के रॉकी तुशीद अध्यक्ष, ABVP की महामेधा नागर ने सचिव पद का चुनाव जीता। यह हार ABVP के लिए करारा झटका है। 2016 में ABVP ने तीन सीटों पर जीत दर्ज की थी। इसमें प्रेजिडेंट, वाइस प्रेजिडेंट और सेक्रेटरी का पद शामिल था। ज्वॉइंट सेक्रेटरी पर NSUI का उम्मीदवार जीता था।

 

-13 राउंड की गिनती हो चुकी है। अब केवल तीन राउंड बचे हैं।

-अध्यक्ष पद पर NSUI के रॉकी तुशीद ने बड़ी बढ़त हासिल कर ली है।

-NSUI के कैंप में जश्न मनना शुरू हो गया है। तीन सीटों पर अगर वे जीत जाते हैं तो यह 2007 के नतीजों जैसा होगा। आई आई NSUI के नारे लगने लगे हैं।

-16 में से आठ राउंड की गिनती हो चुकी है। अब तीन सीटों पर NSUI और एक पर ABVP आगे चल रही है। ABVP सिर्फ सचिव पर आगे।

-2015 में ABVP ने चारों सीटें जीती थीं। 2016 में उसको तीन सीट मिलीं। वहां NSUI ने 2007 में उन्होंने क्लीन स्वीप किया था। उसके बाद 2012 में उन्हें तीन सीट मिली थीं।

– डूसू अध्यक्ष पद के लिए मुख्य उम्मीदवारों में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के रजत चौधरी, एनएसयूआई के रॉकी तूशीद, आइसा की पारुल चौहान, निर्दलीय उम्मीदवार राजा चौधरी और अल्का शामिल हैं।

-छह राउंड की गिनती के बाद भी ABVP चारों सीटों पर बढ़त बनाए हुई है।

-प्रचार के हर बार कुछ नए तरीके भी निकाले जाते हैं। इस बार abvp की उम्मीदवार महामेधा नागर लड़कियों को पेपर स्प्रे बांटती देखी गई थीं।

-डीयू चुनाव के दौरान काफी पैसा बहाया जाता है। प्रचार के लिए महंगी गाड़ियां, बड़े-बड़े बैनरों का इस्तेमाल किया जाता है। चुनाव से पहले ही पूरी दिल्ली में बैनर ही बैनर दिखने लगते हैं।

-चार राउंड की गणना के बाद भी abvp चारों सीटों पर आगे चल रही है।

-इस मामले में NSUI के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार रॉकी तुषीद, ABVP के अंकित बैसोया और महामेधा नागर को नोटिस भेजा गया था। इसकी सुनवाई 20 सितंबर को होनी है। हाई कोर्ट ने चुनाव के नतीजों को जारी करने की इजाजात दे दी थी। तारीख की वजह से यह अटक सकता था।

-पुलिस ने कहा था कि उन्होंने 33 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की है। फिर कोर्ट ने पूछा था कि कितने लोगों को अरेस्ट किया गया? क्या तुम उन लोगों को पहचान नहीं पाते? आपने किया क्या है?

-चुनाव के पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस को फटकार भी लगाई थी। चुनाव कैंपेनिंग के दौरान कई जगह तोड़फोड़ हुई थी। गलत तरीके से बैनर लगाए गए थे। उसके लिए यह फटकार लगाई गई थी।

-ABVP भारतीय जनता पार्टी की छात्र इकाई है। NSUI कांग्रेस की स्टूडेंट विंग।

-इससे पहले जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में छात्र संघ चुनाव हुए थे। वहां सभी सीटें लेफ्ट यूनिटी ने जीतीं। ABVP या NSUI को एक भी सीट नहीं मिली थी।

-कुल 16 राउंड में काउंटिंग होगी। तीन राउंड हो चुके हैं।

-डीयू छात्रसंघ चुनाव 2017 में कुल 1.32 लाख छात्रों ने वोट डाला। यह कुल वोटों का 42.8 प्रतिशत था।

-शुरुआतों चरणों में ABVP आगे रही। अध्यक्ष पद के लिए टक्कर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *